भारत की संसदीय प्रणाली को समझाइए – Parliament Of India in Hindi

Parliament Of India in Hindi

आज हम इस पोस्ट के द्वारा जानेंगे की भारत की संसदीय प्रणाली क्या है (Parliament Of India in Hindi) इनका इतिहास, संविधान सभा की बैठक, संसद सदस्यों का चुनाव और संसद में बजट के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी देने की कोसिस करेंगे। संसद भारत का सर्वोच्‍च विधायी निकाय है। भारतीय संसद में राष्‍ट्रपति … Read more

प्रसिद्ध भारतीय वैज्ञानिक और उनके आविष्कार के बारे में पूरी जानकारी

Famous Indian Scientists And Their Inventions In Hindi

आज हम बात करने वाले है सबसे प्रसिद्ध वैज्ञानिक और उनकी खोज (Famous Indian Scientists And Their Inventions in Hindi) दुनियाभर के वैज्ञानिको ने अलग-अलग क्षेत्रो में महत्वपूर्ण योगदान है. इन वैज्ञानिको को हमेशा इनके किये गए कार्यो के लिये पहचाना जाता है.आज हम दुनिया के उन वैज्ञानिको के बारे में आपको बताने बाले है … Read more

गायक (Singer) कैसे बनें? पूरी जानकारी

Singer Kaise Bane

आज के समय सिंगर बनने के लिए सबसे ज़रूरी है टेलेंट और मेहनत। जितने भी प्रसिद्ध गायक- गायिकाएँ हैं उन सब में बचपन से ही सिंगिंग का टेलेंट देखा गया है। अगर आपको भी लगा है की आप में सिंगिंग का टेलेंट है तो आप भी आगे बढ़ने का सोच सकते हैं। बहुत कम ही … Read more

सही करियर कैसे चुने – How To Choose The Right Career in Hindi

How To Choose The Right Career in Hindi

दोस्तों इस दौड़ती भागती जिंदगी में आज हर कोई चाहता है कि उसकी जिंदगी बहुत ही अच्छी हो वह जो चाहे वह सब उसके पास हो समाज में उसका एक नाम, शोहरत ,इज्जत हो उसके पास ढेर सारे पैसे हो जिससे वह अपनी सभी इच्छाएं आसानी से पूरी कर सके इसलिए इस प्रतियोगिता की दौड़ … Read more

1100+ विलोम शब्द (Vilom Shabd) विपरीत शब्द हिंदी और अंग्रेजी में पाए

Vilom Shabd in Hindi

विलोम शब्द – Vilom Shabd in Hindi अंदर (Inside) = बाहर (Outside) आदर (Respect) = अनादर (Disrespect) अंधकार (Darkness) = प्रकाश (Light) अधिक (More) = कम (Less) आजादी (Freedom) = गुलामी (Slavery) अच्छा (Good) = बुरा (Bad) सत्य (True) = असत्य (False) ज्ञान (Knowledge) = अज्ञान (Ignorance) बदतर (Worse) = बेहतर (Better) आकाश (Sky) = … Read more

वास्तुकला क्या है? भारतीय वास्तुकला का इतिहास पूरी जानकारी

Vastukala In

यह तो सामान्य ही है कि बचपन से ही हर बालक अपने अंदर कुछ बनने का सपना लिए हुए रहता है और अपनी पूरी शिक्षा उसी के आधार पर तय करता है। १०वी कक्षा के बाद वह उसी विषय का चयन करता है जिसके द्वारा वह अपने द्वारा निर्धारित लक्ष्य को प्राप्त कर सके। किसी … Read more