स्कूल टीचर (School Teacher) कैसे बने? पूरी जानकारी

Spread the love

टीचर कैसे बनाए हमारे दुवारा आपको जानकारिया मिलेगी कैसे बन सकते हो आप टीचर। हर साल लाखो भर्ती के लिए फोरम निकलते है। लाखो प्रकिरिया होती है एग्जाम की। ऑनलाइन ओफ्लिने एग्जाम भी होती है। बहुत से लोग ये एग्जाम दे कर के पास होते है बहुत से लोग फ़ैल हो जाते है। हर टीचर बनने के लिए अलग अलग तरह की क्रिया एग्जाम होते है।

स्कूल टीचर कैसे बने? (School Teacher Kaise Bane)

कोई प्राइमरी टीचर बनना चाहता है ,कोई फिज़िकली टीचर ,या कोई सरकारी कोई भी बिषये में टीचर बनना चाहता है। कोई लोअर डिवीज़न के टीचर होते है कोई बहुत ही मेहताबपुर टीचर होते है। बहुत ऐसे है जो 12  क्लास को पढ़ाने के लिए टीचर बनना चाहता है।किस माध्यम से टीचर बन सकते है वो हम आपको बताएंगे।

अध्यापक बनने के लिए अलग अलग लोकेशन में टीचर बनने की प्रक्रिया होती है। पद होते है जैसे (CTET,TEA,BTC,NTT,JBT,TGT,PGT BED,PTT) बहुत सरे आपके पास अध्यापक बनने की लिए उपाए होते है। बहुत ऐसे कोर्स है प्रिवेट गॉवमेंट इंस्टीटूट से जिनको आप कर के अध्यापक बन। पाओगे ये सब जितने कोर्स  को करने के लिए कितने पदों पर न्युक्ति मिलती है। कौन से पद है जिन पर टीचर बना जाये।

शिक्षक कितने प्रकार के होते हैं?

अध्यापक कितने प्रकार के होते है। ये आपको जानकारी होनी चाहिए कितने प्रकार होने चाहिए और कौन कौन से पद होने चाहिए शिक्षा बिभाग में। पदों के लिए हमारी यौगिता क्या होनी चाहिए। जैस कांस्टेबल होते है हेड कांस्टेबल होते ऐसे ही टीचर्स में भी बहुत पद होते है। स्कूल टीचर जो स्कूल में पढ़ाने वाले होते है वो 5 प्रकार के होते है। स्कूल टीचर में प्राइमरी टीचर होते है ये प्राइमरी टीचर बोलते है ये 1 से लेकर 5 बी क्लास तक के बच्चे पढ़ते है। इसको करने के लिए 12 बी पास और STC डिप्लोमा होना जरुरी है।

दूसरा होता है 3rd ग्रैड टीचर l 2 इसके लिए जो जरुरी है BA ग्रेजुएशन होना जरुरी है चाहे वो B.COM हो या कुछ भी। BED होना भी अत्याबश्यक होता है। २ टीचर होता है TGT, BA और Bed जरुरी होता है करना।1 ग्रेड PGT जूनियर लेक्चर PG+BED होना चाहिए।1 ग्रेड PGT जूनियर लेक्चर PG+BED होना चाहिए। फिसिकल शिक्षक PET /PIT सीनियर लैक्चरर असिस्टेंस प्रोफसर PG+NET चाहिए होता है। टीचिंग के लिए 55 % होना जरुरी होता है।इस तरह शिक्षक बहुत प्रकार के होते है और अलग अलग पद पर काम करने वाले होते है।

स्कूल टीचर (School Teacher) कैसे बने?

बहुत सरे लोगो का इंट्रेस्ट स्कूल टीचर बनने का होता उनको ये नई पता होता की स्कूल टीचर बनने के लिए क्या क्या करना पड़ता है।उनको ये नई पता होता की वो किस प्रकार टीचर बन सकते है। कोनसे कोर्स करने चाहिए टीचर बनने के लिए। टीचर के कोर्स बहुत तरह के होते है पाहिले है परिमारी टीचर। ऊपर प्राइमरी टीचर, जूनियर टीचर, इंटरमीडिए टीचर, परसनमक टीचर।

और भी बहुत टीचर होते है जो इनके अंतर्गत होते है जो ऐसी में आते है।एक टीचर PGT के लिए भी कोर्स कृते है। प्राइमरी टीचर के लिए ग्रेजुएशन होना चाहिए उसके साथ DED की डिग्री होने चाहिए BED की डिग्री होना चाहिए अगर इसके लिए आपको २ बर्ष पढ़ना होता है,कुछ जगह 4 बर्ष का होता है। अगर बात करे DED की DELET भी तो बर्ष कोर्स है।

कोई भी टीचर कोर्स के साथ ये सब के एग्जाम देना कम्पलसरी है।इसके साथ साथ आपको पढाई में मन भी अच्छे से लगाना पड़ेगा  और हर चीज बहुत अच्छे से सीखनी बढ़ेगी। टीचर बनना तभी चाहिए जब हम खुद सक्षम होंगे। अगर हम ही गलत पढ़ेंगे तो सामने बाले बच्चे को क्या पढ़ाई करा पाएंगे।

टीचर बनने की योग्यता (Qualification) क्या होती है।

टीचर बनना तो आसान है पर एक योगये टीचर बनने के लिए क्या करना चाहिए। सबसे ज्यादा इंपोर्टेंट है की कोई कौन से टीचर बनने में इंट्रेस्ट रखना चाहता है। वो कौन सा टीचर बनना चाहता है, और कोई भी बनना चाहता है तो उसके लिए क्या करना होगा।टीचर सिर्फ ३ टएप का होता है एक तो होता है PRT ,TGT,PGT पहली होती है जो वो 1  से लेकर 5 तक के क्लास वाले को पढ़ा सकते है।

दूसरी होती है ट्रेंड टीचर। और जो  तरहड होती है वो है पोस्ट ग्रेजुएट टीचर। इस लिए सबसे पाहिले  आपको ये फैसला करना होगा की किस टाइप का टीचर आपक बनना चाहते हो। किस क्लास के बच्चो को पपढ़ाना चाहते है। मान लो की प्राइमरी टीचर बनना चाहते हो इसके लिए कौन सा कोर्स करना पड़ेगा आपको। तो सुनिए दोस्तों अप्पको DLED का कोर्स करना पड़ेगा।

डिप्लोमा ऑफ़ एलेमेंटरी एजुकेशन ये 4 बर्ष के लिए होता है। ये अलग अलग जगह पर अलग अलग नाम से जाना जाता है। कही तो BTC जाना जाता है बिहार में इसका कुछ और नाम नाम होता है।योगिता अच्छे मैक्स के साथ अच्छी शिक्षा खुद भी होना जरुरी होती है।

सरकारी टीचर कैसे बने – सरकारी अध्यापक बनने के लिए क्या करें?

TET पेपर अगर आप भी सरकारी स्कूल में टीचर आप बनना चाहते है तो जुड़े रहिये। अगर आप भी सरकारी टीचर बनना चाहते है तो TET एग्जाम के बारे में जानिए। सरकारी स्कूल में भर्ती के लिए TET पेपर एग्जाम को पास करना बहुत ही जरुरी है।TET का फुल्ल फॉर्म होता है शिक्षक पात्रता परीक्षा। ये परीक्षा टीचर बनने के लिए दिया जाता है।

सरकारी स्कूल में जिसके टीचर बनने की इच्छा होगी तो वो ये एग्जाम देंगे। सरकारी स्कूल में अगर कोई टीचर की जगह खाली होती है उनके द्वारा TET एग्जाम की भर्ती कराई जाती है। TET परीक्षा अगर आप पास कर लेते हो तो गॉवर्मेँट आपको खली जगह पर रखने के लिए अप्लिकबले होती है।

CTET – सेंट्रल टीचर Eligibility टेस्ट एग्जाम क्लियर कैसे करें?

CTET – सेंट्रल टीचर Eligibility टेस्ट एग्जाम क्लियर कैसे करें ये जो एग्जाम है नेशनल लेबल का एग्जाम होता है। इसमें कक्षा 1 से ले कर 8 तक के की कक्षा सरकारी स्कूल में भर्ती होने का मौका देती है।साल में 2 बार परीक्षा होती है इसकी एक बार जुलाई में एक बार दिसम्बर में। लेबल 2 होते है CTET – सेंट्रल टीचर पेपर 1 और पेपर २ पेपर 1 उनके लिए है जो 1 से 8 तक कक्षा को पढ़ना चाहते है। पेपर २ उनके लिए है जो कक्षा 1 से 8 तक के बच्चे पढ़ना चाहत रखते है। योगिता होनी चाहिए १२ का सार्टिफिकेट होना चाहिए और दूसरा एलेमेंटरी डिप्लोमा होना चाहिए ।

TET – TEACHER ELIGIBILITY TEST

TET – TEACHER ELIGIBILITY टेस्ट शिक्षक पात्रता परीक्षा और ये हर लोकेशन स्टेट में करवाया जाता है। प्रमियरी और उप्पेर प्राइमरी के लिए होते है ये एग्जाम। परीक्षा में क्लियर होना अनिबर्य है। कुछ ऐसा न हो जो रेगुलर करवाते है है एग्जाम। और कुछ ऐसे स्टेट होते है जो 1 से 1-5 साल बाद करवाते है एग्जाम। UP में हर बर्ष ये एग्जाम करवाया जाता है। यहां पर बताऊ तो UP बर्ष में एक बार तो करवाती तो होती होती है वैसे २ बार होता अगर 2 बर्ष नहीं होता तो १ बर्ष तो होता ही होता है। ऑनलाइन फोरम भरना पड़ता है जब आप भरने जाते है तो एक ही बार में 600 रुपए देने होते है। 1 और 2 पेपर होता है पहला होता है कक्षा १ से ५ के लिए। और दूसरा होता है १ से आठ के लिए।


Spread the love