भाई दूज पर निबंध – Essay on Bhai Dooj in Hindi

Spread the love

हम बहुत सारे रिश्तों से जुड़े हुए हैं। जिनमें से कुछ रिश्ते हमारे जीवन में बहुत अधिक महत्व रखते हैं और हम उनकी खुशी और लंबी उम्र की कामना के लिए व्रत पूजा करते हैं। ऐसे ही एक पवित्र रिश्ता है भाई- बहन। इनके रिश्ते के लिए एक विशेष त्योहार मनाया जाता है “भाई दूज” का। यह भाई के प्रति बहन का प्यार दिखाता है।

भाई दूज पर निबंध – Long and Short Essay on Bhai Dooj in Hindi

यह त्योहार कार्तिक मास शुक्ल पक्ष के द्वितीया तिथि को मनाया जाता है यानी दिवाली के दो दिन बाद मनाया जाता है। इसके पीछे एक एतिहासिक कहानी है। ऐसा कहा जाता है कि सूर्यदेव की पत्नी छाया ने यम और यमुना नाम के पुत्र और पुत्री को जन्म दिया था।

अपने विवाह के पश्चात यमुना अपने भाई यमराज को अपने घर भोजन के लिए बुला रही थी लेकिन अपने कार्य में व्यस्त होने के कारण जा नहीं पा रहे थे। एक दिन यमराज ने सोचा कि कोई भी गलती से भी मुझे अपने घर नहीं बुलाता है लेकिन मेरी बहन इतने प्रेम से मुझे इतने दिनों से बुला रही है। मुझे अवश्य जाना चाहिए और यमराज अपने बहन यमुना के घर गए।

भाई को देख कर यमुना के खुशी का ठिकाना नहीं रहा। यमुना सबसे पहले यमुना में स्नान किया और अपने भाई का तिलक किया। यमुना ने अपने भाई को भोजन में तरह तरह का पकवान परोसा। यमुना के प्रेम भाव से बहुत खुश हुए और यह वरदान दिया कि आज के दिन जो बहन यमुना में स्नान करके अपने भाई को तिलक लगाने के बाद अच्छे अच्छे भोजन करायेगी तो उससे और उसके भाई को यमराज का भय नहीं होगा। इसीलिए तभी से ये त्योहार मनाया जाने लगा।

भाई दूज कैसे मनाते हैं

भाई दूज के दिन बहनें अपने भाइयों की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती है। घर में कई तरह के पकवान बनाए जाते हैं। बहनें अपने भाइयों को तिलक करके भोजन करातीं हैं। और भाई अपनी बहनों को ठेर सारे उपहार देते हैं। यह त्योहार हिंदू धर्म में बहुत महत्व रखता है और हर्ष उल्लास के साथ मनाना जाता है। भाई बहन साथ में घूमने-फिरने मूवी देखने और खरीदारी करने भी जाते हैं।

निष्कर्ष

भाई दूज हिंदू धर्म में बहुत ज्यादा महत्व दिया जाता है। भाई बहन का ये त्योहार परिवार में खुशियां लेकर आता है। यह त्योहार उनके रिश्तों को मजबूत बनाता है। कहते बड़ी बहन के रूप में मां और बड़े भाई के रूप में पिता का प्यार मिलता है। भाई बहन के परस्पर प्रेम को बढ़ावा देने के लिए रक्षाबंधन और भाई दूज के पर्व को उत्साह के साथ मनाना चाहिए।

उम्मीद करता हु भाई दूज पर निबंध Essay on Bhai Dooj in Hindi के बारे में आपको पूरी जानकरी मिल गयी होगी, अगर आपको हमारे पोस्ट पसंद आते है तो आप अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते है. धन्यवाद !


Spread the love