होमगार्ड कैसे बने? वेतन तथा भर्ती प्रक्रिया की पूरी जानकारी

Spread the love

जिस तरह से देश की पुलिस देश की सेवा करती है उसी तरह होमगार्ड भी देश की सेवा में लगे रहते जिस तरह से पुलिस जनता को सुरक्षा प्रदान  करती है होमगार्ड निजी और सरकारी क्षेत्रों में सुरक्षा प्रदान करने का महत्वपूर्ण कार्य करते हैं इतना ही नहीं बल्कि होमगार्ड की वर्दी पुलिस की वर्दी के समान होती है पुलिस एक सरकारी कर्मचारी है उसी तरह होमगार्ड भी एक कर्मचारी है उन्हें पुलिस के समान ही वर्दी दी जाती है जहां पुलिस बल कम पड़ता है वहां होमगार्ड नियुक्त किए जाते हैं.

होमगार्ड कैसे बने? (Home Guard Kaise Bane)

होमगार्ड सार्वजनिक सुरक्षा और सामाजिक समस्याओं को दूर करने में सक्षम है होमगार्ड भारत के सबसे बड़े  सुरक्षाकर्मी एनजीओ में से एक है यह एक होमगार्ड बल है जो भारतीय पुलिस की सहायता के लिए हमेशा तैयार रहता है हमारे देश में बहुत सारे सार्वजनिक कार्य होते रहते हैं हम बहुत सारे त्योहारों पर विश्वास करते हैं,

ऐसी स्थिति में परिसर की सुरक्षा के लिए पुलिस बल कम हो जाता है इसलिए इन परिस्थितियों में होमगार्ड नियुक्त किए जाते हैं वह रोजाना पुलिस थाने में रिपोर्टिंग करते हैं उन्हें एक निर्दिष्ट अवध के लिए काम दिया जाता है हमारे देश में लगभग हर साल चुनाव होते रहते हैं कहने का मतलब किसी ने किसी क्षेत्र में हमेशा चुनाव होते रहते हैं ऐसी स्थिति में सार्वजनिक सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए होमगार्ड की ड्यूटी लगाई जाती है सरकारी और निजी संस्थानों में सुरक्षा का काम अक्सर सोमवार को ही दिया जाता है,

वहां की सुरक्षा व्यवस्था के लिए जिम्मेदार होते हैं स्कूल और कॉलेज में भी सुरक्षा के लिए मौजूद होते हैं अधिकांश शिक्षण संस्थान में उन्हें तैनात किया जाता है सरकारी या निजी वित्तीय वित्तीय संस्थान के एटीएम केंद्रों की सुरक्षा व्यवस्था होमगार्ड की ही जिम में होती है।

अब हम आपको इससे पूरे भर्ती प्रक्रिया का विवरण बताते हैं होमगार्ड बनने के लिए उम्मीदवार को कम से कम 10 वीं पास होना चाहिए उम्मीदवार को भारत के किसी भी राज्य के मान्यता प्राप्त शिक्षा बोर्ड से उत्तरी होना चाहिए,

इसमें महिला और पुरुष दोनों आवेदन कर सकते हैं इस इसके लिए आयु सीमा सरकारी प्रक्रिया से बहुत अधिक है पुरुष उम्मीदवारों की आयु सीमा 20 से 47 वर्ष निर्धारित की गई है प्रथम महिला उम्मीदवारों के लिए यह 20 से 42 होती है होमगार्ड बनने के लिए शरीर की हाईट की सीमा तय की गई है पुरुष  मैं सामान उम्मीदवार के लिए 162 सेंटीमीटर तथा अन्य वर्ग के उम्मीदवार के लिए 157 सेंटीमीटर निर्धारित की गई है जबकि महिला उम्मीदवारों के लिए यह 148 सेंटीमीटर निर्धारित की गई है आवेदन करने वाला उम्मीदवार भारत के किसी भी राज्य का निवासी होना चाहिए तभी वह पात्र होंगे शारीरिक तथा मानसिक रूप से स्वस्थ होना चाहिए.

उम्मीदवार के शरीर का वजन उम्र और ऊंचाई के अनुसार होना चाहिए उम्मीदवार के आंख में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए राज्यों में स्थापित केंद्रीय सिविल डिफेंस प्रशिक्षण केंद्र द्वारा होमगार्ड का चयन किया जाता है सभी योग्य उम्मीदवारों को को अपनी सहमत तभी देते हैं जब उनका चयन हो जाता है इसके लिए लिखित परीक्षा राज्य सरकार द्वारा ली जाती है,

लिखित परीक्षा पास करने के बाद शारीरिक दक्षता परीक्षा पास करनी होती है इनका वेतन लगभग 15000 से 18000 तक का होता है इसके अलावा कुछ विशेष कार्यों के लिए अलग से मानदेय दिया जाता है देश के प्रत्येक राज्य में राज्य सरकारों ने होमगार्ड के लिए अलग वेतन निर्धारित किया है 6 दिसंबर का दिन देशभर में होमगार्ड संगठन स्थापना दिवस के रूप में मनाया जाता है भारत के सभी राज्यों में नियुक्त होमगार्डों की संख्या लगभग छह लाख है किसी भी चयन प्रक्रिया की तुलना में होमगार्ड की चयन प्रक्रिया बहुत ही सरल है


Spread the love