Skip to content

Teacher Kaise Bane? अध्यापक कैसे बने? Eligibility और Salary क्या होगी?

Teacher Kaise Bane अध्यापक कैसे बने Eligibility और Salary क्या होगी

Teacher Kaise Bane

हेलो दोस्तों नमस्कार हम सभी जानते ही हैं कि हमारे देश के साथ-साथ पूरी दुनिया में टीचर्स को बहुत महत्वपूर्ण दर्जा प्राप्त है बहुत भारत के साथ-साथ पूरी दुनिया में टीचर का बहुत अधिक सम्मान किया जाता है और बहुत युवा ऐसे हैं आज के दौर में जो एक अच्छा शिक्षक बनना चाहते हैं लेकिन उनको Teacher Kaise Bane इसकी संपूर्ण जानकारी नहीं है और जानकारी के अभाव में बहुत सारे युवा मार्ग से भटक जाते हैं और अपने लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर पाते तो दोस्तों आज हम आपको बताएंगे कि आप Teacher Kaise Bane, School Lecturer Kaise Bane, School Principal Kaise Bane इनके साथ साथ कुछ महत्वपूर्ण बातें और भी आप सभी के समक्ष सांझा की जाएगी तो इसलिए यह पोस्ट अति महत्वपूर्ण है पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़िएगा.

सबसे पहले हम आपको बता दें कि टीचर भी कई तरह के होते हैं मुख्यता टीचर की श्रेणी को तीन भागों में बांटा जा सकता है, हम आप सभी के समक्ष हर एक महत्वपूर्ण पॉइंट को बताएंगे तो आप ध्यान से पढ़िएगा

  1. PRT(Primary Teacher)
  2. TGT(Trained Teacher)
  3. PGT(Post Graduate Teacher)

1. Primary Teacher

Primary Teacher यानी कि इसके अंतर्गत आप प्राइमरी स्कूलों में जाकर बच्चों को पढ़ा सकोगे, जो शिक्षक पहली कक्षा से पांचवी कक्षा तक के छात्र को पढ़ाते हैं वह Primary Teacher कहलाते हैं, अगर आप की रूचि 1st to 5th कक्षा के बच्चों को पढ़ाने की है तो आप प्राइमरी टीचर बन सकते हो इसके लिए कुछ एलिजिबिलिटी है जिसको आपको एक बार समझना होगा अगर आपके पास यह एलिजिबिलिटी है तो आप प्राइमरी टीचर बन सकते हो,

Eligibility:

Primary Teacher बनने के लिए सबसे पहले आपको 12वीं कक्षा की पढ़ाई पूरी करनी होगी 12वीं कक्षा पूरी( कम से कम 50% अंक के साथ) करने के पश्चात 3 वर्षों की ग्रेजुएशन डिग्री लीजिएगा, क्योंकि ग्रेजुएशन के बाद आप को 2 वर्षीय डिप्लोमा करना होगा, जिसके पश्चात आप प्राइमरी टीचर बन सकते हैं.

2 वर्षीय डिप्लोमा को अलग अलग राज्य में अलग-अलग नामों से जाना जा सकता है परंतु इस डिप्लोमा का प्रचलित नाम D.EL.ED Or B.T.C है, दोस्तों 2 वर्षीय डिप्लोमा करने के पश्चात आपको सरकारी टीचर बनने के लिए कुछ परीक्षाएं पास करनी होती हैं जिनको TET EXAM बोला जाता है जैसे कि अगर स्टेट की बात करें तो अलग-अलग स्टेट के अपने रूल्स होते है उदाहरण के तौर पर अगर हम आपको बताएं उत्तर प्रदेश मैं प्राइमरी टीचर बनने के लिए सबसे पहले UPTET पास करना होता है और अगर मैं हरियाणा की बात करूं तो हरियाणा में टेट को दूसरे नाम से जाना जाता है जिसे HTET कहते हैं, कुछ वर्षों से TET के एग्जाम के बाद 1 स्क्रीनिंग टेस्ट भी लिए जाते हैं उनके पश्चात मेरिट के आधार पर आप का चयन होता है जो मेरिट में आता है वह सरकारी प्राइमरी टीचर बन जाता है, यदि आप केंद्र सरकारी स्कूलों में शिक्षक बनना चाहते हैं तो प्राइमरी टीचर बनने के लिए आपको CTET की परीक्षा पास करनी होगी, इसमें 2 भाग होते हैं.

  • Paper-I( अगर आप प्राइमरी टीचर बनना चाहते हैं,तो आपको पेपर 1 पास करना होगा)
  • Paper-II( यदि आप tgt या pgt बनना चाहते हैं, तो आपको पेपर 2 पास करना होगा)

दोस्तों CTET की परीक्षा पास करने के बाद आप केंद्रीय स्कूल जैसे कि नवोदय विद्यालय या फिर (K.V.S) केंद्रीय विद्यालय में टीचर बन सकते हो!केंद्रीय विद्यालय का शिक्षक बनने के लिए आपको लिखित परीक्षा के साथ-साथ इंटरव्यू की परीक्षा भी पास करनी होती हैं,

Note – दोस्तों आपकी जानकारी के लिए बता दें अगर आप सरकारी टीचर नहीं बनना चाहते,आप प्राइवेट टीचर बनना चाहते हो किसी भी स्कूल में तो आप बिना टेट की परीक्षा किए भी प्राइवेट टीचर बन सकते हो, हालांकि नई शिक्षा नीति के आधार पर अब प्राइवेट स्कूलों में भी वही प्राइमरी के शिक्षक बन पाएंगे जो टेट की परीक्षा को पास कर चुके होंगे.

2. TGT (Trained Graduate Teacher)

अक्सर युवाओं का यह प्रश्न रहता है tgt किसे कहा जाता है या tgt kaise bane आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर छठी से दसवीं कक्षा तक के बच्चों को पढ़ा सकते हैं, यानी की छठी से दसवीं कक्षा का शिक्षक Trained Graduate Teacher कहलाता है,ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर बनने के लिए ग्रेजुएशन के पश्चात B.Ed करनी आवश्यक है अगर आपके पास B.Ed की डिग्री है तो आप बिल्कुल आसानी से ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर बन सकते हो,BED डिग्री करने के पश्चात आपको छठी से आठवीं कक्षा का शिक्षक बनने के लिए टेट की परीक्षा भी देनी होगी जैसे प्राइमरी शिक्षक बनने के लिए देना होता है वही प्रक्रिया छठी से आठवीं का शिक्षक बनने के लिए भी होगी सरकारी ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर बनने के लिए टेट की परीक्षा पास करने के पश्चात मेरिट के आधार पर ही आपका चयन होता है.

3. PGT ( Post Graduate Teacher)

दोस्तों पोस्ट ग्रेजुएट टीचर एक बहुत ही प्रतिष्ठित शिक्षक का पद माना गया है क्योंकि Post Graduate Teacher वह होता है जो 11वीं कक्षा से लेकर बारहवीं कक्षा तक के छात्रों को पढ़ाता है, अक्सर यह प्रश्न बहुत पूछा जाता है कि pgt kaise bane जैसे हमने बताया आपकी पोस्ट ग्रेजुएट टीचर का पद बहुत प्रतिष्ठित होता है तो इसीलिए पीजीटी टीचर बनने के लिए जो परीक्षा होती है वह भी थोड़ी मुश्किल होती है अगर हम एलिजिबिलिटी की बात करें तो पोस्ट ग्रैजुएट टीचर बनने के लिए आपके पास B.Ed की डिग्री होना आवश्यक है , पोस्ट ग्रेजुएट टीचर बनने के लिए आपको एक विषय का चुनाव करना होता है जिस विषय से आपने B.Ed की होती है उसी विषय से आप पोस्ट ग्रैजुएट टीचर बन सकते हैं यानी कि अगर आप कॉमर्स के टीचर बनना चाहते हैं तो आपने B.COM की होनी चाहिए और उसके पश्चात B.Ed में भी B.COM से संबंधित विषय आपके होने चाहिए,ऐसा इसलिए है क्योंकि 11वीं कक्षा से स्ट्रीम सिस्टम शुरू हो जाता है जैसे कि आज आर्ट्स, कॉमर्स, मेडिकल, नॉन मेडिकल, इसीलिए विषय विशेषज्ञ को ही 11वीं से 12वीं के छात्रों को पढ़ाने का मौका मिल पाता है,पोस्ट ग्रेजुएट टीचर बनने के लिए आपको टेट की परीक्षा देनी आवश्यक है उसी के आधार पर ही आपका चयन होता है, हम आशा करते हैं कि आपको जानकारी हो गई होगी कि
PGT Kaise Bane.

Teacher Banne Ke Liye Age Limit

यह प्रश्न भी काफी बार पूछा जाता है कि है कि टीचर बनने के लिए एज लिमिट क्या है तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार के अपने-अपने रूल है जिनके अनुसार पीआरटी ,टीजीटी एवं पीजीटी टीचर की अधिकतम आयु सीमा निर्धारित की गई है अगर हम अधिकतम आयु की बात करें तो अधिकतम आयु 42 वर्ष है.

Teacher Ki Salary

दोस्तों government teacher बनने के लिए बहुत युवा कड़ी मेहनत करते हैं और उसके पश्चात अपने लक्ष्य को प्राप्त कर लेते हैं जितनी मेहनत government teacher की सैलरी भी बहुत अच्छी होती है, हम आपको लगभग के अनुसार बता रहे हैं कि लगभग कितनी सैलरी आपको मिल सकती हैं क्योंकि केंद्र एवं राज्य में सैलरी अलग-अलग होती है.

  • 1. PRT-35000+
  • 2.TGT-40000+
  • 3. PGT-45000+

दोस्तों हम आशा करते हैं कि आपको आइडिया हो गया होगा कि government teacher की सैलरी कितनी होती है.

School Principal Kaise Bane

दोस्तों हम आपको बताएंगे कि आप स्कूल प्रिंसिपल कैसे बन सकते हैं , दोस्तों प्रिंसिपल को के पद को भरने के लिए कुछ अलग अलग इस तरह की प्रक्रिया अपनाई जाती है जैसे कि कभी-कभी state अनुसार या तो सीधी भर्ती के द्वारा भर लिए जाते हैं और कुछ पद ऐसे होते हैं जो पदोन्नति के माध्यम से भरे जाते हैं जिन शिक्षक को अनुभव अच्छा होता है उन शिक्षक को पदोन्नति के द्वारा प्रिंसिपल के पद पर योग्य मान लिया जाता है प्रिंसिपल के लिए आपके पास B.Ed की डिग्री होनी चाहिए एवं आपके पास शिक्षण का अनुभव होना चाहिए यानी कि अगर आप टीजीटी टीचर हैं और आपको पढ़ाते हुए कई वर्ष हो चुके हैं तो आप प्रिंसिपल बनने योग्य हैं अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग प्रक्रिया के द्वारा प्रिंसिपल के पद को भरा जाता है इसके लिए शिक्षक को अनुभव होना आवश्यक है

दोस्तों हम आशा करते हैं कि आपको हमारे द्वारा बताई गई संपूर्ण में जानकारी अच्छी लगी होगी अगर अच्छी लगी है तो दोस्तों के साथ शेयर जरूर कीजिएगा क्योंकि इस लेख के माध्यम से हमने सरल एवं सटीक भाषा में जानकारी देने की कोशिश की है धन्यवाद!