अब आप पुराने कंप्यूटर पर Window 11 इनस्टॉल कर पाएंगे, जानिए कैसे

अब आप पुराने कंप्यूटर पर Window 11 इनस्टॉल कर पाएंगे, जानिए कैसे

माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) यूजर्स अब पुराने कंप्यूटर पर विंडोज 11 (Windows 11) इंस्टॉल कर सकेंगे। विंडोज 11 अपग्रेड के लिए कंपनी के पास अपडेटेड सिस्टम रिक्वायरमेंट्स है। विंडोज 11 अब इंटल कोर एक्स सीरिज, जिऑन वॉट-सीरिज और इंटेल कोर 7820एचयू को भी सपोर्ट करेगा। कस्टमर विंडोज 11 को आईएसओ फाइल से मैनुअल तरीके से इंस्टॉल कर सकेंगे। इसके लिए सिस्टम में 4 जीबी रैम और 64 जीबी स्टोरेज होना जरूरी है।

टेक दिग्गज ने एक बयान में कहा कि कुछ कॉम्पैटिबल 64-बिट प्रोसेसर, 4 जीबी मेमोरी, 64 जीबी स्टोरेज, यूईएफआई सिक्योड बूट, ग्राफिक्स और टीपीएम 2.0 डिलीवर करने के लिए सही सिस्टम हैं। जिन्हें हमने अच्छे सपोर्ट देने के लिए सेट किया। फर्म ने बताया कि इंटेल 7 जनरेशन के प्रोसेसर पर चलने वाले पीसी मॉडल की पहचान करनी होगी। जिससे हमनें मिनिमम सिस्टम रिक्वायरमेंट्स में शामिल नहीं किया था।

बता दें माइक्रोसॉफ्ट ने जून में विंडोज 11 मिनिमम हार्डवेयर रिक्वायरमेंट्स का ऐलान किया था। कहा था कि इंटेल 8वीं जनरेशन और सीपीयू ऑफिशियल तौर पर सपोर्ट करते थे। अब कंपनी ने बताया है कि इंस्टाल मुख्य रूप से विंडोज 11 का इवैल्यूएशन करने के लिए डिजाइन किया गया था। साथ ही माइक्रोसॉफ्ट प्राइवेट कंप्यूटर चेक एप को अपडेट कर रहा है।

गौरतलब है कि विंडोज 11 में डिफॉल्ट एप्स में बदलाव किया है। अब यूजर्स को डिफॉल्ट ब्राउजर को स्विच करने में परेशानी होगी। द वर्ज की एक रिपोर्ट के मुताबिक अगर विंडोज 11 के लॉन्च पर अपना डिफॉल्ट ब्राउजर सेट करना भूल गए। तब विंडोज 10 के अपेक्षा डिफॉल्चट स्विच करना थोड़ा मुश्किल होगा।