हिन्दी दिवस पर निबंध – Hindi Diwas Essay in Hindi

Spread the love

भारत मे हर साल 14 सितम्बर को हिंदी दिवस मनाया जाता है, क्योंकि इसी दिन देवनागरी लिपि मे लिखी गयी हिंदु भाषा को भारत के संविधान ने भारत गणराज्य की आधिकारिक भाषा घोषित किया था, हालाँकि 26 जनवरी 1950 मे देश के संविधान ने से अधिकारिक भाषा के रुप मे इस्तेमाल करने के लिए मंजूरी दे दी गयी। लेकिन हिंदी दिवस 14 सितंबर को मनाया जाता है  क्योंकि उसी दिन हमारे देश की आधिकारिक भाषा बनाई गयी थी। आसान भाषा मे कहें तो इस दिन को मनाने का असली मकसद हिंदी महत्व पर थोड़ा ज़ोर देन और भारत के हर जनरेशन के बीच इसको बढ़ावा देना होता है।

हिन्दी दिवस पर निबंध – Long and Short Hindi Diwas Essay in Hindi

अगर देख जाए तो आजकल के युवा ओन मात्र भाषा को धीरे धीरे बोलते जा रहे हैं और अंग्रेजी की तरफ आकर्षित हो रहे हैं और अगर ऐसा ही चलता रहा तो वो दिन दूर नही जब हिंदी भाषा भारत के लोगों के जहन से निकल चुकी होगी। यह युवाओं को यह या दिलाने के लिए भी होता है की इसे की फर्क नही पड़ता की हैं कहाँ है, कहाँ पहुँच चुके हैं, हमे अपने वतन, भाषा और उस जुड़ी हर चीज को ध्यान मे रखना है और कभी नही भूलना चाहिए।

हिंदी दिवस हर साल हम हमारे भारतीय होने पर गर्व दिलाता है। यह पूरे भारत ( युवा, बड़े, बूढ़े, महिलाएं, बच्चे, नीची जाती) की जंता को एक जुट रखने मे सहायता करता है और हैं जहाँ भी जाए हमे अपनी संस्कृति, मूल्य और भाषा को बरकरार रखने चाहिए, और यह एक ऐसा दिन है जो हमारी देश के प्रति भावनाओं के लिए हमे प्रेरित करता है। जैसा की हम सभी जानते हैं की अंग्रेजी भाषा आज लगभग पूरे विश्व मे इस्तेमाल की जाती है, और हमारी आधिकारिक भाषाओं मे से एक है,

हिंदी दिवस हमे यह भी याद दिलाने का प्रयास करता है की हिंदी हमारी अधिकारिक भाषा है और बहुत यह बहुत महत्वपूर्ण है। दुर्भाग्य से चाहे हिंदी पूरे विश्व की चौथी व्यापक  बोली जाने वाली भाषा है पर इसे लुच् देशों मे लोग हिंदी को ज्यादा महत्व नही देते। अगर देख जाए तो हर जगह चाहे वो स्कूल, कॉलेज, दफ्तर हो यहाँ अंग्रेज़ी बढ़ को बढ़ावा दिया जाता है। घर मे और स्कूल मे हर जगह अंग्रेज़ी भाषा को थोड़ा बेहतर करने पे ज़ोर दिया जाता है जबकि हिंदी हमारी मात्र भाषा है। भारत मे ज्यादातार सब हिंदी ही बोलते हैं, बाकी देश जहाँ हिंदी बोली जाती है वो है नेपाल, पाकिस्तान आदि।

कॉलेज और विद्यालयों मे मनाये जाने वाला हिंदी दिवस राष्ट्रीय स्तर पर भी बड़ी ही उल्लास व खुशी के साथ मनाया जाता है,  इसमे राष्ट्रपति द्वारा उन लोगों को इनाम दिये जाते हैं जिन्होने हिंदी भाषा से जुड़े किसी भी फील्ड मे की मुकाम हासिल किया हो। कई सारे सांस्कृतिक कार्यक्रम भी मनाये जाते हैं। कई हिंदी भाषा के बड़े बड़े भाषणों को आयोजित किया जाता है,

कई विद्यालयों मे इस दिन इंटर स्कूल कंपिटिशन करवाते हैं जिसे बच्चों की हिंदी मजबूत हो। इस दिवस पर लोग  इंग्लिश और किसी अन्य भाषा से ज्यादा से हिंदी को प्राथमिकता देते हैं और पालन करते हैं। हमे अपनी  मात्र भाषा को कभी नही भूलना चाहिए, इससे दूसरों को हमारी संस्कृति के बारे मे पता चलता है। हमे अपनि उमर से छोटे लोगों को भी यह समझाना चाहिए की अपनी परंपराओं को कभी नही भूलना चाहिए और हमेशा उसपर गर्व करना चाहिए।


Spread the love