बीपीओ में जॉब्स कैसे पाए? योग्यता, सैलरी की पूरी जानकारी

Spread the love

बीपीओ में जॉब्स कैसे पाए? (BPO Me Job Kaise Paye)

बढ़ती आबादी और बढ़ती बेरोजगारी से हर एक इंसान आज काफी हद तक परेशान हैं कई लोगों के पास नौकरी है लेकिन उससे उनके रोजमर्रा का खर्चा पूरा नहीं हो पा रहा तो कहीं लोगों के पास नौकरी नहीं है जिसके कारण वह बेहद परेशान हैं।

एक लंबे समय से बेरोजगारी भारत पे चरम सीमा पर पहुंच गई है जिसके कारण लोग सबसे ज्यादा परेशान रह रहे हैं लोगों के पास अच्छी से अच्छी डिग्री और ज्ञान होने के बाद भी उन्हें अच्छी नौकरी नहीं मिल रही है और कई अब तक लोगों को नौकरी नहीं मिल रही है जिसके कारण लोग आसमा निर्भरता दिखाते हुए कई लोग अपना नया स्टार्टअप और अलग अलग तरह का बिजनेस कर रहे हैं.

और इस बिजनेस के लिए उन्हें कई तरह के एंप्लॉय की जरूरत पड़ती है ऐसे में एक रोजगार जो भारत में पिछले 5 साल से काफी ज्यादा लोकप्रिय हैं, आज हर युवा वर्ग के लोगों में यह रोजगार अपनी जगह बनाए हुए हैं और हर एक युवा आज जॉब के लिए कोशिश कर रहा है और अधिकतर लोगों को यह जॉब आसानी से मिल रहा है । दोस्तों, कुछ नौकरी ऐसी होती है जहां आपके नॉलेज और डिग्री से ज्यादा आपके कौशल का लोगों को जरूरत होता है.

और अपने कौशल के दम पर लोग इस नौकरी में अपनी जगह बना पा रहे हैं और साथ ही अच्छी कमाई भी कर रहे हैं । आप मुझसे बहुत सारे लोग ऐसे होंगे जिनके पास अच्छी डिग्री हो या ना हो, उनके पास लोगों से बात करने की प्रतिभा है और लोगों को अपने बातों के जरिए कंवींस करना उन्हें बेहद अच्छे से आता है और इस कौशल की तलाश कई बड़ी कंपनियों को है क्योंकि हर एक कंपनी आखिरकार मैनेजमेंट और कस्टमर के दम पर ही आगे बढ़ पाती है और यादो कंपनी के सबसे महत्वपूर्ण स्तंभ होते हैं अगर इनमें से कोई भी एक स्तंभ कमजोर पड़ जाए तो कंपनी पिछड़ सकती हैं और बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है,

ठीक उसी तरह आज हम आपको एक ऐसी नौकरी के बारे में बताएंगे जो कि युवा वर्ग के बीच में काफी ज्यादा प्रचलन में हैं और अधिकतर युवा वर्ग के लोग इस नौकरी के जरिए अच्छी कमाई कर रहे हैं ।

अगर आप अभी नौकरी की तलाश कर रहे हैं और आप चाहते हैं कि आपको नई नौकरी के बारे में पता चले या फिर किसी ऐसी नौकरी के बारे में पता चले जहां आप का ज्यादा चांस है कि आप सेलेक्ट हो सकते हैं आप बिल्कुल सही ब्लॉग पढ़ रहे हैं क्योंकि इस ब्लॉक को पढ़ने के बाद आप कई हद तक यह मुमकिन है कि आप इस नौकरी के लिए जरूर आवेदन करेंगे और यह नौकरी पाएंगे आइए आपको इस नौकरी के बारे में बताते हैं ।

आपने अक्सर सोशल मीडिया पर या फिर अखबारों में बीपीओ की नौकरी के बारे में सुना होगा, हमेशा ही इस नौकरी का इश्तिहार अखबार में निकलता है और साथ ही सोशल मीडिया पर भी हमेशा ही बीपीओ का प्रचार होता रहता है,

अगर आप भी बीपीओ में जॉब पाना चाहते हैं तो, यह ब्लॉग आपके लिए काफी महत्वपूर्ण है इसके जरिए आप बीपीओ से जुड़ी हुई हर एक महत्वपूर्ण जानकारी जान सकेंगे और जॉब के आवेदन के वक्त इस जानकारी का पूरा प्रयोग कर पाएंगे, आइए बिल्कुल सरल भाषा में आपको बीपीओ के बारे में सारी महत्वपूर्ण जानकारी बताते हैं ।

बीपीओ क्या है (What is B.P.O in Hindi)

इसके बारे में कई लोगों के मुंह से आपने कई तरह की बातें सुनी होंगी लेकिन आखिरकार बीपीओ है क्या वह हम आपको यहां बताएंगे ।

बीपीओ शब्द का फुल फॉर्म बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग होता है, बीपीओ एक ऐसा आउटसोर्स प्रोसेस होता है जिसमें थर्ड पार्टी को कांट्रेक्ट के आधार पर मैनेजमेंट में शामिल किया जाता है । बीपीओ अधिकतर बैक ऑफिस से जुड़ा हुआ आउट सोर्स है जिसके तहत ह्यूमन रिसोर्स, फाइनेंस इत्यादि डिपार्टमेंट आते हैं और साथ में फ्रंट ऑफिस आउटसोर्सिंग में कॉल सेंटर का काम होता है । डीपीओ में जब अलग अलग देश से कांटेक्ट करके आउटसोर्सिंग किया जाता है उसे अलग शब्द से संबोधित करते हैं जैसे कि, बीपीओ में अगर किसी व्यक्ति को देश के बाहर कॉन्ट्रैक्ट किया जाता है तो ऑफ सोर्स आउटसोर्सिंग कहते हैं । यदि किसी पड़ोसी देश के साथ कॉन्ट्रैक्ट हो तो उसे नियरसोर आउटसोर्सिंग कहते हैं ।

आप मुझसे बहुत सारे लोग ऐसे होंगे जिन्हें बीपीओ के कॉल सेंटर के बारे में पूरी जानकारी ना हो, अक्सर बीपीओ को कॉल सेंटर से ही जोड़ा जाता है इसीलिए अब हम आपको यह बताएंगे कि बीपीओ कॉल सेंटर आखिर क्या होता है -:

आपको यह जानकर हैरानी  होगी कि बीपीओ और कॉल सेंटर एक हीं होता है, कॉल सेंटर को बीपीओ भी कहा जाता है । अक्सर हम विभिन्न प्रकार के परेशानी के दौरान कस्टमर केयर को कॉल करते हैं जैसे कि कभी-कभी जब हम अपना मोबाइल फोन रिचार्ज कराते हैं तो रिचार्ज नहीं होने पर या आपके रिचार्ज अकाउंट से बैलेंस के कट जाने पर आप जब कंपनी में फोन करते हैं तो वह कॉल कस्टमर केयर के पास जाता है जो कि एक प्रकार का बीपीओ होता है ।

बीपीओ के द्वारा कई प्रकार की सुविधा कस्टमर को मुहैया करवाई जाती है जैसे कि, स्वास्थ्य की सुविधा, मोबाइल इंडस्ट्री, सॉफ्टवेयर से जुड़ी हुई समस्या का समाधान इत्यादि ।

यहां तक तो हमने आपको यह बताया है कि बीपीओ क्या होती है और यह कि स तरह काम करती है, अब हम आपको यह बताएंगे कि आप किस तरह बीपीओ में जॉब कर सकते हैं ।

दोस्तों, वीडियो में दो प्रकार की कॉलिंग होती है एक डोमेस्टिक कॉलिंग और एक इंटरनेशनल कॉलिंग, अगर आपकी इंग्लिश साधारण है तो आपको डोमेस्टिक कॉलिंग के लिए अप्लाई करना चाहिए लेकिन अगर आप की बोलचाल काफी अच्छी है और आपकी इंग्लिश कम्युनिकेशन अच्छी है तो आप इंटरनेशनल कॉलिंग के लिए अप्लाई करें क्योंकि वहां आपको अच्छी इंग्लिश के साथ अच्छी स्किल्स चाहिए होगी । साथ ही आपको बीपीओ में काम करने के लिए बेसिक कंप्यूटर का नॉलेज और टाइपिंग स्पीड अच्छा होना बेहद जरूरी है । बीपीओ में अप्लाई करने के लिए आपको बहुत ज्यादा डिग्री की जरूरत नहीं है आप किसी भी स्ट्रीम से  ग्रेजुएशन के बाद , कभी भी बीपीओ के लिए अप्लाई कर सकते हैं यहां पर आप से सबसे ज्यादा कम्युनिकेशन स्किल के लिए डिमांड की जाएगी ।

अगर आप ग्रेजुएशन के बाद जॉब करना चाहते हैं और अच्छी कमाई के साथ कुछ वर्क एक्सपीरियंस चाहते हैं तो आप भी बीपीओ में जॉब सकते हैं , लेकिन कुछ कुछ बातों का ध्यान अवश्य रखें ।

  • ग्रेजुएशन के बाद बीपीओ के लिए अप्लाई
  • बेसिक कंप्यूटर नॉलेज होना अनिवार्य है
  • टाइपिंग स्पीड अच्छी होनी चाहिए
  • दूसरों को अपनी बातों से कंवींस करना आना चाहिए
  • इंग्लिश बोलने पर आपका पूरा फोकस होना चाहिए।
  • इंग्लिश बोलना और लिखना बहुत अच्छी तरह से आना चाहिए
  • कॉन्फिडेंस होना बेहद जरूरी है ।

तो हमने यहां आपको यह बताया है कि, बीपीओ क्या है यह कैसे काम करती है और बीपीओ में अप्लाई करने का क्या क्राइटेरिया है साथ ही हमने आपको इस ब्लॉग के जरिए टिप्स दिया है कि आप किस तरह बीपीओ जॉब के लिए अच्छे से तैयारी कर सकते हैं, अब इन सारी बातों को ध्यान में रखते हुए आप बीपीओ में आराम से जॉब पा सकते हैं ।


Spread the love
error: Content is protected !!