Aadhar Card Virtual Id Kya Hai? आधार वर्चुअल आईडी कैसे बनाएं? पूरी जानकारी

Spread the love

आए दिन भारत में पिछले कुछ साल में कई नियम बदले गए हैं जिनमें कभी मौजूद भारत सरकार ने नोटबंदी करवाई तो कभी अचानक से कुछ जरूरी हेरफेर करवा दिए गए कभी बैंक में पैसा निकालना और डालना के बदले ग्राहकों को एक सुनिश्चित राशि अलग से बैंक को भरनी पड़ी तो कभी-कभी लोगों के डॉक्यूमेंट के साथ भी बदलाव किया गया ।

इन सभी बदलाव में सबसे ज्यादा प्रचलन में रहा एक बदलाव जिसकी आने के बाद हर एक जगह इसका मांग बढ़ता गया और देखते ही देखते आज हर एक व्यक्ति का पहचान पत्र बन चुका है । किसी कॉलेज और स्कूल के फॉर्म भरने से लेकर रेलवे टिकट और रेलवे सफर में इसका साथ होना बेहद जरूरी होता है आप वोट देने जा रहे हैं या फिर आप बैंक में अपना खाता खुलवा रहे हो या फिर आप किसी एग्जाम के लिए फॉर्म भर रहे हो हर जगह इस डॉक्यूमेंट का डिमांड बढ़ता जा रहा है.

और इसीलिए आजकल हर जगह अनिवार्य हो गया है । नवजात शिशु से लेकर हर एक युवक और वृद्ध लोगों के लिए भी यह बेहद इस डॉक्यूमेंट को संभाल कर अपने पास रखें और जहां भी इसकी डिमांड हो उसे पेश करें , अब तक तो आप समझ गए होंगे कि हम किस डॉक्यूमेंट की बात कर रहे हैं और अगर फिर भी आपके समझ में यह बात नहीं आई है तो बता दें कि हम “आधार कार्ड” की बात कर रहे हैं । यह वही आधार कार्ड है जो कुछ वक्त पहले से भारत में मुख्य तौर पर आपके परिचय का हिस्सा बन चुका है और गुजरते दिन के साथ आज हर एक भारतीय नागरिक के लिए अनिवार्य हो गया है कि उनके पास उनका आधार कार्ड जरूर बना हुआ हो ।

Aadhar Card Virtual Id Kya Hota Hai?

देखते ही देखते आधार कार्ड आज भारत में मौजूद हर एक नागरिक यानी कि हर एक भारतीय नागरिक के लिए उनका बेशकीमती डॉक्यूमेंट बन चुका है जिसके बिना उनकी पहचान मुश्किल है,एक तरफ हर जगह आज आधार कार्ड का डिमांड लगातार बढ़ता जा रहा है वहीं बढ़ती डिमांड के साथ इसका प्रयोग भी खूब हो रहा है,

जिसके बाद कुछ लोगों ने आधार कार्ड का दुरुपयोग करना शुरू कर दिया और इसके कारण कई मासूम लोग संगीन अपराध में फस जाते हैं जो कि उन्होंने कभी किया भी नहीं लेकिन आधार कार्ड के दुरुपयोग यानी कि गलत तरीके से किसी की आधार को ही प्रयोग करने के कारण कोई भी व्यक्ति साजिश का हिस्सा बन जाता है और उसे पता भी नहीं होता ।

इसी कारण अब हर एक व्यक्ति अपने आधार कार्ड को लेकर काफी है इन सिक्योर महसूस करने लगा है लोगों को यह लगता है कि अगर वह कहीं आधार का प्रयोग कर रहे हैं तो उनके आधार का दुरुपयोग ना हो जाए और उन्हें कोई गलत तरीके से किसी जुर्म में ना फसा दे । इन सारी परेशानियों को देखते हुए भारत सरकार ने ऐसा जरिया निकाला जिसके कारण हर एक भारतीय नागरिक की यह समस्या सुलझ गई और अब लोग फिर से आधार कार्ड को लेकर सुरक्षित महसूस कर रहे हैं ।

आज कल अधिकतर लोग आधार कार्ड वर्चुअल आईडी के बारे में बात कर रहे हैं, शायद आपने भी उन लोगों के द्वारा आधार कार्ड वर्चुअल आईडी के बारे में जरूर सुना होगा लेकिन क्या आपको पता है कि आधार कार्ड वर्चुअल आईडी क्या है और आप कैसे आधार कार्ड वर्चुअल आईडी जनरेट कर सकते हैं, आधार कार्ड वर्चुअल आईडी जनरेट करना बेहद आसान है और कुछ नियमों का ध्यान रखते हुए और कुछ स्टेप का पालन करते हुए आप भी अपना आधार कार्ड वर्चुअल आईडी जनरेट कर सकते हैं,

अगर आप भी ऐसी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं आप बिल्कुल सही ब्लॉग पढ़ रहे हैं क्योंकि यहां आपको इस तरह की जानकारी बेहद सरल भाषा में दी जाएगी । जिसके बाद आपको आधार कार्ड वर्चुअल आईडी से जुड़ी हुई सब जानकारी यहां इस ब्लॉग में प्राप्त होगी और इसको पढ़ने के बाद आपके मन में जो भी दुविधा है वह सब सुलझ जाएगी ।

आधार कार्ड वर्चुअल आईडी क्या है ?

आधार कार्ड वोटर आईडी एक तरीके का आपके सही सूचना वाले आधार का नमूना है , इसमें यूजर का कुछ बेसिक डिटेल जैसे कि नाम पता और तस्वीर शेयर की जाएगी , इसको जनरेट करने के लिए सबसे खास तरीका यह है और यही सबसे सुरक्षित तरीका है कि, आधार कार्ड वर्चुअल आईडी को कोई दूसरा व्यक्ति नहीं बल्कि, केवल कार्ड होल्डर है UIDAI की वेबसाइट , आधार सेंटर या आधार ऐप के जरिए ही जनरेट हो पाएगा । यह आईडी एक से अधिक बार जनरेट हो सकता है लेकिन एक निश्चित समय के लिए ही वैलिड होगा और जैसे ही आप दोबारा आईडी जेनरेट करेंगे तो पहले वाला आईडी इनवैलिड हो जाएगा ।

UIDAI’S के इस वर्चुअल आईडी की मदद से अब तक तकरीबन 119 करोड़ आधार कार्ड होल्डर को आसानी होगी उस 16 डिजिट नंबर को जनरेट करने में । इस तत्काल प्रयोग वाले नंबर को हम आधार कार्ड के नंबर की जगह आसानी से बैंक , इंश्योरेंस कंपनी या फिर टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर इन सारी जगह पर आसानी से प्रयोग कर सकते हैं ।

आइए आप जानते हैं कि आप किस तरह इस सुरक्षित आधार कार्ड के नमूने को खुद जनरेट कर सकते हैं और उसके लिए आपको क्या स्टेप फॉलो करने की जरूरत है -:

  • सबसे पहले यूआईडीएआई के होम पेज आधार सेवाओं के वीआईडी जनरेट पर जाएं ।
  • अब अपना आधार नंबर और सिक्योरिटी जो कि आपको कैप्चा में दी जाएगी उसे डालें और ओटीपी पानी के लिए क्लिक करें । आपको अपने यूआईडीएआई के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी मिलेगा ।
  • अब ओटीपी कोड दर्ज करें और आपके पास नया वीआईडी या पहले से बना हुआ भी वीआईडी को प्राप्त करने का ऑप्शन मिलेगा, जब आप विकल्प चुनेंगे तो आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर वी वीआईडी मिल जाएगी ।

अब हमने आपको इस ब्लॉग में आधार कार्ड के बारे में संपूर्ण जानकारी दी है कि कैसे आधार कार्ड से जुड़ी हुई तमाम तरह की घटनाएं घट रही है और जिन को देखते हुए सरकार ने उचित कदम उठाया और साथ में मासूम लोगों को बचाने के लिए और साथ ही आधार कार्ड का सुरक्षा बढ़ाने के लिए अब आधार कार्ड वर्चुअल आईडी को लोगों के बीच लाया गया है, इस ब्लॉग को पढ़ने के बाद आपको आधार कार्ड वर्चुअल आईडी के बारे में पूरी जानकारी मिल गई है और अब आप खुद अपने आधार कार्ड वर्चुअल आईडी जेनरेट कर सकते हैं।


Spread the love