500 Internal Server Error Kya Hai (५०० इंटरनल सर्वर एरर क्या है) पूरी जनकारी

Spread the love

इस पोस्ट में 500 Internal Server Error Kya Hai और इसको कैसे सही करे इन सभी के बारे में आपको बताया गया है, अक्सर वेबसाइट पर यह एरर आता रहता है इसलिए इसके बारे में हमें समझना बहोत जरुरी है। तो चलिए इसके बारे में विस्तार से समझते है।

अक्सर जब हम इंटरनेट संबंधी कोई कार्य मोबाइल,लैपटॉप अथवा कंप्यूटर में करते है तो हमे तकनीकी संबंधित कई नए शब्दों के बारे में पता चलता है जिसके विषय में हमे पहले कोई ज्ञान नही रहता है। आज भी ऐसे कई तकनीकी शब्द है जिसका मतलब हमे नहीं पता,पर इन शब्दों के अर्थ को जानना अधिक आवयशक होता है अन्यथा हमारे कार्य में त्रुटि होने की संभावना बढ़ जाती है।

यह तो सत्य है कि हम कितना भी ज्ञान अर्जन कर ले कुकब न कुछ तो शेष रह ही जाता है क्योंकि तकनीकी का क्षेत्र एक विशाल क्षेत्र है इसकी कोई सीमा नहीं है यह अनन्त फैला हुआ है,विस्तृत है। प्रतिदिन इसमे कुछ नया होता है,कुछ नए अविष्कार होते है। अभी भी लाखों वैज्ञानिक किसी न किसी विषय की खोज कर रहे है। ऐसे में हमारे समक्ष एक नया शब्द आता है ५०० इंटर्नल सर्वर एरर। आश्चर्य होने की आवश्यकता नहीं है!! आज भी ऐसे कई लोग है जो इस शब्द से अनभिज्ञ है,तो आज हम इसके बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे कि वास्तव में ये है क्या?

500 Internal Server Error Kya Hai, इस एरर को कैसे सही करे?

कभी-कभी हम देखते है कि जब हम कोई वेबसाइट खोलते है तो हमे ५०० इंटर्नल सर्वर एरर दिखता है और वेबसाइट नहीं खुलती है। तो इसका अर्थ यह है कि हमारे वर्डप्रैस वेबसाइट पर कुछ गलत हुआ है जिसके वजह से हमे कठिनाई हो रही है। यह हमारे कंप्यूटर या इंटरनेट के कारण नहीं होता है बल्कि यह हमारे वेबसाइट द्वारा होता है। यह तो स्वाभाविक ही है कि जब का कभी हम ऐसा एरर देखते है तो हमे थोड़ा भय तो होता ही है पर इसमे भय की कोई बात नहीं है यह हमारे वेबसाइट को गायब कर देता है परंतु इसमे हमारे वर्डप्रेस के डेटा के सुरक्षित रहने की संभावना होती है क्योंकि यह एरर ठीक किया जा सकता है।

कोई भी चीज़ बिना कारण के नहीं होती है ठीक उसी तरह ५०० इंटर्नल सर्वर एरर के होने के भी कुछ कारण है जिनका ज्ञान होना आवयशक है क्योंकि बिना कारण जाने हम इसे ठीक नही कर सकते है। इसके मुख्य कारण निन्म है-

  • एचटीएसक्सेस फ़ाइल-यदि हम कोडिंग गलत करते है तो इंटरनल सर्वर कररूपट हो जाता है और एचटीएक्सेस फ़ाइल भी खराब हो जाती है।
  • दूसरा कारण हो सकता है प्लगइन का यदि हमने नया प्लगइन डाला है या फिर अद्यतन किया है तो हो सकता है वह प्लगइन हमारे वर्डप्रेस के अनूकूल ना हो जिस वजह से हमे एरर दिखता है।
  • जब भी हम किसी वेबसाइट को खोलते है या उसका अद्यतन करते है तो कई बार हमें ५०० एचटीटीपी एरर देखने को मिलता है इसका अर्थ यह है कि हमारी पीएचपी मेमोरी सीमा समाप्त हो चुकी है।
  • कोडिंग को हमेशा ध्यान से करना चाहिए वरना एरर आने की संभावनाएं रहती है।

५०० इंटर्नल सर्वर एरर को ठीक करने का तरीका- इस एरर को ठीक करने के कई तरीके है जो अत्यंत सरल है।

१.एचटीएक्सेस फ़ाइल मुख्य रूप से एक कॉन्फ़िगरेशन फ़ाइल होती है जो हमारे वेबसाइट के कॉन्फ़िगरेशन को संभालती है। इसमें थोड़ी सी भी गलती एरर का कारण बन जाती है पर इससे ठीक भी किया जा सकता है इसके लिए सबसे पहले हमें होस्टिंग के सी पैनल में जाना होता है उसके बाद फ़ाइल मैनेजर में जाकर रुट डायरेक्टरी द्वारा अपने एचटीएक्सेस फ़ाइल का नाम बदलना होता है उसके पश्चात हमे अपने वर्डप्रेस में जाकर लॉगिन करना होता है और प्रेमालिंक खोल कर उसमें इसे दाखिल या सेव कर लेना होता है,बस फिर हमारी नई एचटीएक्सेस फ़ाइल का निर्माण वर्डप्रेस द्वारा कर लिया जाता है और हमारी एरर की परेशानी का समाधान हो जाता है।

२.अब दूसरी परेशानी आती है प्लगइन की यदि एचटी एक्सेस फ़ाइल नई बनाने के बाद भी एरर आ रहा है तो हमे अपने वेबसाइट के सारे प्लगइन को डीएक्टिवेट करना होता है। यदि हम अपने वर्डप्रेस को खोल नहीं पा रहे है तो फिर हमें फिरसे होस्टिंग के सी पैनल में जाना होगा और रुट डायरेक्टरी में जाकर डब्ल्यू पी कंटेंट पर क्लिक करना होगा अब हमें उसमे अपने प्लगइन फ़ाइल का नाम बदलना होगा। इसके बाद हमारी वेबसाइट के सारे प्लगइन डिएक्टिवेट हो जाएंगे और हमारी वेबसाइट चलने लगेगी।

इसका सीधा से मतलब यही हुआ कि प्लगइन में दिक्क्क्त थी। पर अब एक परेशानी यह है कि दोबारा प्लगइन को एक्टिवेट करने के लिए वापस से होस्टिंग के सी पैनल को खोलना होगा फिर फ़ाइल मैनेजर के रूट डायरेक्टरी में जाकर प्लगइन फ़ाइल का नाम दोबारा बदलना होगा। हर प्लगइन को एक्टिवेट करने के बाद वेबसाइट पर दोबारा इंटर्नल एरर आएगा तब यह स्पष्ट हो जाएगा कि दिक्कत प्लगइन की है। इसके बाद भी यदि एरर दिखे तो हमे कुछ और तरीकों को और अपनाना होगा जैसके पीएचपी मेमोरी सीमा को बढ़ाना। इसके अतिरिक्त यदि कोडिंग में कुछ गलती हो जाये तो हमे होस्टिंग के सी पैनल में जाकर दोबारा लॉगिन करना होगा और फ़ाइल मैनेजर के पब्लिक एचटी एम एल के जिस फ़ाइल में हमने कोडिंग की थी उसको हटाना होगा इससे इंटरनल सर्वर का एरर हैट जाएगा।

इस तरह से हमने देखा कि ४०० इंटर्नल सर्वर एरर इतनी भयावह नहीं है बस इसके बारे में सही ज्ञान होना चाहिए तभी हम इसे ठीक कर पाएंगे। उम्मीद करता हु 500 Internal Server Error Kya Hai (५०० इंटरनल सर्वर एरर क्या है) आपको अच्छे से समझ में आ गया होगा, अगर आपको हमारे द्वारा लिखे आर्टिकल पसंद आता है तो आप अपने दोस्तों के साथ साझा कर सकते है।


Spread the love